Wednesday, November 30, 2022

पिता की अस्थियां चुनते समय अखिलेश की आंख में आए आंसू, भतीजे को रोता देख चाचा शिवपाल भी खुद को नहीं रोक पाए

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को मेला ग्राउंड स्थित अंत्येष्टि स्थल पहुंच अपने पिता मुलायम सिंह की अस्थियां एकत्र कीं। उनके आंसू बहते देख चाचा शिवपाल से भी रहा नहीं गया।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को मेला ग्राउंड स्थित अंत्येष्टि स्थल पहुंच अपने पिता मुलायम सिंह की अस्थियां एकत्र कीं। उनके आंसू बहते देख चाचा शिवपाल से भी रहा नहीं गया। आंखों में नमी लिए शिवपाल भी चिता से अस्थियों को एक तरफ कर रहे थे। इस दौरान मौके पर मौजूद यादव कुनबे समेत तमाम ग्रामीण यह दृश्य देख भावविभोर हो गए।  

शनिवार सुबह अखिलेश अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव, बेटे अर्जुन, भाई अभयराम, धर्मेंद्र यादव, तेज प्रताप, अभिषेक यादव के अलावा परिवार के अन्य लोगों के साथ मेला ग्राउंड पहुंचे जहां मुलायम को अंतिम विदाई दी गई थी। विसर्जन के लिए अस्थियों को एकत्र करने पहुंचे अखिलेश मानो सुबह से ही बेहाल थे। जैसे ही अस्थि अवशेषों को उठाना शुरू किया उनकी आंखों से आंसू बहने लगे तो चाचा शिवपाल सिंह यादव ने भी अपने भाई की अस्थियों को कलश में रखना शुरू किया।

कुछ देर बाद दो लोटे में अस्थियां रखकर लाल कपड़े से लपेटकर बोझिल कदमों से अखिलेश वापस चले गए। इस दौरान परिवार समेत मौके पर मौजूद तमाम लोग नेता जी को याद कर फफक रहे थे। सूत्रों के मुताबिक, हरिद्वार और प्रयागराज में नेता जी की अस्थियां प्रवाहित की जाएंगी।

छठे दिन भी श्रद्धांजलि देने वालों का तांता, सचिन पायलट भी सैफई पहुंचे

नेता जी के निधन के छठे दिन यानी शनिवार को भी श्रद्धांजलि देने वालों का सैफई में तांता लगा रहा। राजस्थान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट सुबह 10 बजे ही पहुंच गए और मुलायम के चित्र पर पुष्प अर्पित करके श्रद्धांजलि दी। वह काफी देर अखिलेश यादव से पास बैठे रहे, उन्हें सांत्वना देते रहे। इसके अलावा पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, पूर्व डिप्टी सीएम सुखवीर सिंह बादल, पंजाब के विधायक सरदार बिक्रम सिंह मजीठिया, केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, उनके बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्डा भी शोक संवेदना व्यक्त करने वालों में शामिल रहें।  

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राज बब्बर ने भी चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद परिवार के सदस्यों से मुलाकात की। इसी तरह देर शाम तक वीवीआईपी लोगों का आना जारी रहा। इसके अलावा आसपास के क्षेत्रों से भी बड़ी संख्या में कार्यकर्ता आवास पहुंचे जहां उन्होंने नेताजी को श्रद्धांजलि देते हुए परिवार के लोगों से मुलाकात की। बीते 10 अक्तूबर को मुलायम के निधन के बाद से पैतृक आवास सैफई में श्रद्धांजलि देने वालों की आवक लगातार जारी है। रोजाना बड़ी संख्या में लोग सैफई पहुंच रहे हैं। शनिवार की सुबह से लोग उनके आवास पर पहुंच गये और श्रद्धांजलि दी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles