Sunday, December 4, 2022

चिदंबरम बोले- आधार, डीबीटी UPA सरकार की देन; BJP ने ऐसे कसा तंज

कांग्रेस नेता चिदंबरम ने ट्वीट किया, ”भाजपा की ओर से डीबीटी और आधार का श्रेय लेने से पहले कृपया इसे याद करिए कि इन्हें कब शुरू किया गया था। आधार की शुरुआत 28 जनवरी, 2009 को को गई थी।”

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की ओर से भारत के ‘आधार’ और ‘प्रत्यक्ष अंतरण’ (डीबीटी) की तारीफ किए जाने के एक दिन बाद शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी की अगुवाई वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) सरकार ने इन दोनों कार्यक्रमों को शुरू किया था। भारतीय जनता पार्टी ने चिदंबरम पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस नेता जिस तर्क के आधार पर इन योजनाओं की सफलता का श्रेय ले रहे हैं उसी तरह क्या उनकी पार्टी गरीबी उन्मूलन कार्यक्रमों का भी श्रेय लेगी क्योंकि इंदिरा गांधी के प्रधानमंत्री रहते समय कांग्रेस ने ‘गरीबी हटाओ’ का नारा दिया था। 

चिदंबरम ने ट्वीट किया, ”भाजपा की ओर से डीबीटी और आधार का श्रेय लेने से पहले कृपया इसे याद करिए कि इन्हें कब शुरू किया गया था। आधार की शुरुआत 28 जनवरी, 2009 को को गई थी। डीबीटी को एक जनवरी, 2013 को आरंभ किया गया था। दोनों कार्यक्रम संप्रग सरकार ने शुरू किए थे।” इस पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने संसद में दिए चिदंबरम के एक वक्तव्य का वीडियो साझा किया जिसमें पूर्व वित्त मंत्री ने डिजिटल लेनदेन पर नरेंद्र मोदी सरकार के जोर देने को लेकर सवाल किया था। 

बीजेपी नेता ने कहा, ”हैरान करने वाली बात है कि यह वही व्यक्ति हैं जिन्होंने संसद में डिजिटल इंडिया का मजाक बनाया था और वह अब कैसे डीबीटी और आधार का श्रेय लेंगे ?” भाजपा आईटी प्रकोष्ठ के प्रमुख अमित मालवीय ने तंज कसते हुए कहा कि चिदंरबम जिस तर्क के आधार पर इन योजनापर ओं की सफलता का श्रेय ले रहे हैं उस आधार पर क्या उनकी पार्टी गरीबी उन्मूलन कार्यक्रमों का भी श्रेय लेगी क्योंकि इंदिरा गांधी के प्रधानमंत्री रहते समय कांग्रेस ने ‘गरीबी हटाओ’ का नारा दिया था।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles