Wednesday, November 30, 2022

यूपी में पिटबुल के पहरे में चल रहा था जुआ, पुलिस को 25 मिनट तक रोके रहा खतरनाक कुत्ते का डर

कानपुर में पिटबुल के खौफ को शातिरों ने अलग- अलग तरह से भुनाना शुरू कर दिया है। कल्याणपुर में जुए की सूचना पर दबिश मारने पहुंची पुलिस उस समय पीछे हट गई, जुआरियों की पहरेदारी करता एक पिटबुल सामने आया।

कानपुर में पिटबुल के खौफ को शातिरों ने अलग- अलग तरह से भुनाना शुरू कर दिया है। कल्याणपुर में जुए की सूचना पर दबिश मारने पहुंची पुलिस उस समय पीछे हट गई, जब जुआरियों की पहरेदारी करता एक पिटबुल सामने आ गया। पुलिस ने मुश्किल से पिटबुल को काबू में किया पर तबतक छह जुआरी भाग चुके थे। घेराबंदी कर सात को गिरफ्तार कर लिया गया। फड़ से 1.25 लाख रुपये जब्त किए गए। 13 के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

कल्याणपुर पुलिस को सूचना मिली थी कि पनकी रोड स्थित गायत्री मंदिर के पास अजीत सिंह के मकान नम्बर ए 82 में जुआ खिलवाया जा रहा है। इस पर चौकी इंचार्ज शिव कुमार शर्मा ने फोर्स संग दबिश दी। चौकी इंचार्ज के मुताबिक, मकान का गेट खोलते एक पिटबुल सामने आ गया और हमलावर हो गया। पिटबुल के ठीक पीछे के कमरे में जुआ चल रहा था। कोई कमरे में न आ सके, इसलिए पिटबुल डॉग को खुला छोड़ रखा था। करीब 25 मिनट तक पुलिस को रोके रहा पिटबुल का खौफ। इसके बाद पुलिस ने उसे खंभे से बांध दिया। तबतक अंदर भनक लग चुकी थी और दीवार फांदकर छह जुआरी भाग खड़े हुए, लेकिन सात को घेरकर पकड़ लिया गया।

इनके खिलाफ दर्ज की गई एफआईआर
ग्वालटोली निवासी मंजुल मिश्रा, नारामऊ निवासी मोहम्मद चांद, मसवानपुर निवासी रामजीवन, भाऊपुर शिवली निवासी वीरेन्द्र सिंह, शारदा नगर निवासी मान सिंह, शिवपुरी रावतपुर निवासी रंजीत यादव, बैरी सवाई शिवली निवासी ललित कुमार, ग्राम आट अकबरपुर निवासी महेन्द्र कुमार, विजय नगर गल्लामंडी निवासी शिवम कुमार, भारग मैथा निवासी सचिन कुमार, अर्मापुर निवासी आसिफ अली, मैथा निवासी लल्लू और नानकारी निवासी लालू के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

कल्याणपुर, एसीपी, दिनेश कुमार शुक्ला ने कहा कि पिटबुल डॉग के लिए नगर निगम से बात की जा रही है। इस मामले में मकान मालिक की तलाश भी जारी है। उसे आरोपित बनाया गया है। किसी को इस मामले में बख्शा नहीं जाएगा।

पुलिस ने यहां भी कर दिया खेल
दबिश में आरोपितों के पास से 1.25 लाख रुपए बरामद किए गए। पुलिस ने इस मामले में भी खेल किया। फर्द में मकान मालिक का नाम दाखिल किया लेकिन एफआईआर में उसे आरोपित नहीं बनाया गया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles