Saturday, December 3, 2022

केरल के साइको रेपिस्ट मोहम्मद शफी की खौफनाक कहानी, 26 और फाइलें खुली; पढ़ें बड़े अपडेट्स

पुलिस सूत्रों का कहना है कि उन्हें शक है कि दो महिलाओं के अलावा और भी महिलाओं की हत्या की गई है। ऐसा इसलिए क्योंकि मु्ख्य आरोपी मोहम्मद शफी एक साइको रेपिस्ट और किलर है।

केरल के पथानामथिट्टा जिले में कथित नरबलि के मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं। घटनाक्रम की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) अब आरोपी के गांव एलंथूर में जमीन की खुदाई करेगा, ताकि पता लगाया जा सके कि वहां और शव दबे हैं या नहीं? पुलिस सूत्रों का कहना है कि उन्हें शक है कि दो महिलाओं के अलावा और भी महिलाओं की हत्या की गई है। ऐसा इसलिए क्योंकि मु्ख्य आरोपी मोहम्मद शफी एक साइको रेपिस्ट और किलर है। जो सिर्फ महिलाओं को अपना शिकार बनाता है। पिछले पांच साल में गायब हुई 26 महिलाओं की फाइल भी फिर से खोल दी गई है।

एसआईटी ने फिलहाल दो महिलाओं की हत्या के आरोप में मोहम्मद शफी और डॉक्टर भगवल सिंह और उनकी पत्नी लैला को गिरफ्तार किया है।  जिन दो महिलाओं की नृशंस तरीके से हत्या की गई है उनकी पहचान पद्मा और रोसेलिन के रूप में हुई है। एसआईटी के एक अधिकारी ने कहा कि लगातार पूछताछ के बाद उन्हें संदेह है कि “और हत्याएं हुई हैं।”

साइको किलर और रेपिस्ट है मोहम्मद शफी
एसआईटी सूत्रों का कहना है कि मामले में मुख्य आरोपी मोहम्मद शफी साइको किलर और रेपिस्ट है। सोशल मीडिया पर फेक आईडी के दम पर पहले वो महिलाओं से दोस्ती करता था फिर किसी तरह का लालच देकर पहले रेप और फिर हत्या करके शव के टुकड़े कर देता था। सूत्रों का कहना है कि शफी ने और भी हत्याएं की होंगी, ऐसा शक है। इसके लिए वह राज्यभर में भ्रमण भी कर चुका था।

प्राइवेट पार्ट रखने का शौक
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो शफी को अजीब किस्म का शौक है। वह शिकार किए महिलाओं को मारकर उनके प्राइवेट पार्ट्स काटकर निकाल लेता था और अपने पास रख लेता था। दोनों शिकार की गई महिलाओं के साथ भी उसने यही किया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपी के गांव में अलग-अलग जगहों पर खुदाई के लिए एक्सपर्ट डॉग स्क्वायड की मदद ली जाएगी। इससे पहले दिन में एसआईटी की टीम ने शफी के कोच्चि स्थित घर और होटल में छापेमारी की थी।

कैसे दिया था वारदात को अंजाम
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शफी ने सोशल मीडिया एप के जरिए ‘श्रीदेवी’ नाम से फिजियोथेरेपिस्ट डॉक्टर भगवल सिंह से दोस्ती की। फिर तंत्र मंत्र के जरिए उनकी आर्थिक परेशानी दूर करने का दावा किया। इसके लिए उसने यकीन दिलाया कि महिलाओं की बलि देकर ही उनकी परेशानी दूर हो सकती है। फिर शिकार ढूंढते हुए उसने दो महिलाओं को लालच दिया कि वह फिल्म शूटिंग में मदद करके पैसों कमा सकती हैं। जब महिलाएं उसके साथ गई तो धोखे से उन्हें बिस्तर में रस्सियों से बांधा और फिर कथित तौर पर रेप किया। रेप के बाद उसने चाकू से महिलाओं के अंग काटने शुरू कर दिए। इसके बाद आखिर में गला काटकर महिलाओं की हत्या कर दी। आरोपी पर इन महिलाओं के शवों के टुकड़े- टुकड़े करके जमीन में दफनाने का भी आरोप है। इस नृशंस हत्याकांड में उसके साथ भगवल सिंह और लैला भी शामिल रही। 

भगवल को ही हटाने की साजिश
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोहम्मद शफी इस दौरान लैला के करीब आ गया। फिर उन्होंने भगवल को ही रास्ते से हटाकर साथ में रहने का फैसला लिया। हालांकि इस बीच उनका भंडाफोड़ हो गया और पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर दिया।

पांच साल में गायब महिलाओं की फिर होगी जांच
एसआईटी का कहना है कि पुलिस ने एर्नाकुलम और पथानामथिट्टा जिलों में पिछले पांच साल से चली आ रही हत्याओं के मद्देनजर लापता महिलाओं के सभी मामलों को फिर से खोलने का फैसला किया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि पांच साल में पठानमथिट्टा से 12 और एर्नाकुलम जिलों से 14 महिलाओं के लापता होने के मामले सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि मामलों की जांच के लिए विशेष अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles