Sunday, December 4, 2022

UP में खुली स्वास्थ्य सेवाओं की पोल: 97 साल की मां को स्ट्रेचर पर लेकर भटकता रहा बेटा, थक हार कर गेट पर बैठा

शुक्रवार दोपहर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परतावल में कम्हरिया गांव के रहने वाले 72 वर्षीय विन्ध्याचल अपनी 97 वर्षीय मां भुअरा देवी को स्वयं स्ट्रेचर पर लेकर अस्पताल में ले गए। उनकी मां भुवरा देवी की कमर की हड्डी टुटी हुई है। जिसका एक्स-रे उसने पहले से कराया था। वह पुनः एक्स-रे कराने गए तो वहां कर्मी ने कहा कि बाहर करा लीजिए यहां मशीन खराब है।

स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के दावे फेल होते नजर आ रहे हैं। सीएचसी परतावल में शुक्रवार को एक 97 साल की महिला को उसका बेटा एक्सरे कराने लाया, लेकिन उसे लौटा दिया गया। वह स्वयं स्ट्रेचर खिचते हुए गेट तक ले गया, उसे कुछ समझ में नहीं आया तो वह स्ट्रेचर पर अपनी मां को छोड़कर वहीं बैठ गया। बाद में अस्पताल कर्मियों को अपनी गलती का एहसास हुआ तो उसे बुलाकर प्राथमिक उपचार कर घर भेजा।

शुक्रवार दोपहर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परतावल में कम्हरिया गांव के रहने वाले 72 वर्षीय विन्ध्याचल अपनी 97 वर्षीय मां भुअरा देवी को स्वयं स्ट्रेचर पर लेकर अस्पताल में ले गए। उनकी मां भुवरा देवी की कमर की हड्डी टुटी हुई है। जिसका एक्स-रे उसने पहले से कराया था। वह पुनः एक्स-रे कराने गए तो वहां कर्मी ने कहा कि बाहर करा लीजिए यहां मशीन खराब है। इसके बाद विन्ध्याचल इधर-उधर भटकते रहे। 

आखिर में थक हारकर अस्पताल गेट के सामने बैठ गए। स्थानीय लोग उनको सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ. राजेश द्विवेदी के पास ले गए। मरीज की सरकारी पर्ची दिखाते हुए पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। अधीक्षक स्वयं पर्ची लेकर मरीज के पास पहुंचे और मरीज का प्राथमिक इलाज शुरू कराया। इसके बाद घर भेज दिया। सीएचसी अधीक्षक डॉ. राजेश द्विवेदी ने बताया कि एक्स-रे मशीन को जल्दी ठीक करा दिया जाएगा। अस्पताल आने वाले सभी मरीजों का बेहतर इलाज कराने का प्रयास जारी है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles