Friday, December 2, 2022

Rozgar Mela: बेरोजगारी के मर्ज को कितना दूर करेंगी 10 लाख नौकरियां, राजस्थान समेत इन राज्यों का बुरा हाल

Unemployment Rate: आंकड़े बताते हैं कि सितंबर 2022 के 6.43 प्रतिशत मुकाबले अक्टूबर में बेरोजगारी दर बढ़कर 8 फीसदी हो गई है। इस साल अगस्त और फरवरी में भी बेरोजगारी दर 8 प्रतिशत से ज्यादा रही थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को रोजगार मेले का शुभारंभ कर दिया है। इसके तहत शुरुआती चरण में देश के 75 हजार युवाओं को नियुक्ति पत्र सौंपे जा रहे हैं। पीएम मोदी ने बताया कि 38 मंत्रालयों और विभागों में नौकरियां दी जा रही हैं। उन्होंने बताया कि आने वाले महीनों में और भी रोजगार दिए जाएंगे। कार्यक्रम में देश के अलग-अलग राज्यों से कई केंद्रीय मंत्री भी शामिल हो रहे हैं।

रोजगार के मुद्दे पर घिरती रही सरकार
खास बात है कि भारत में विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर महंगाई, रोजगार समेत कई मुद्दों पर हमलावर रहता है। ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान ही कांग्रेस लगातार सरकार पर सवाल उठा रही है। ऐसे में यह घोषणा सरकार के लिए दो राज्यों में विधानसभा चुनाव और 2024 में लोकसभा चुनाव में फायदेमंद साबित हो सकती है। हालांकि, सरकार 2023 के अंत से पहले ही 10 लाख नौकरियां देने की बात कह रही है।

क्या बोले पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा कि आज केंद्र सरकार 75 हजार युवाओं को नियुक्ति पत्र दे रही है, बीते 8 वर्षों में पहले भी लाखों युवाओं को नियुक्ति पत्र दिए गए हैं। उन्होंने कहा, ‘आने वाले महीनों में इसी तरह लाखों युवाओं को भारत सरकार द्वारा समय-समय पर नियुक्ति पत्र सौंपे जाएंगे। आज अगर केंद्र सरकार के विभागों में इतनी तत्परता, इतनी क्षमता आई है, इसके पीछे 7-8 साल की कड़ी मेहनत है।’

क्या कहते हैं रोजगार के आंकड़े
कोरोनावायरस महामारी शुरू होने के बाद से ही देश में बेरोजगारी के आंकड़े तेजी से बढ़े थे। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी यानी CMIE के आंकड़े बताते हैं कि सितंबर 2022 के 6.43 प्रतिशत मुकाबले अक्टूबर में बेरोजगारी दर बढ़कर 8 फीसदी हो गई है। इस साल अगस्त और फरवरी में भी बेरोजगारी दर 8 प्रतिशत से ज्यादा रही थी। इस दौरान सबसे ज्यादा शहरी क्षेत्र प्रभावित नजर आए।

राज्यों में क्या हैं हाल
बेरोजगारी के लिहाज से सबसे ज्यादा हाल राजस्थान में खराब है। सितंबर में यहां दर 23.8 फीसदी थी। इसके बाद जम्मू-कश्मीर में यह आंकड़ा 23.2 फीसदी, हरियाणा में 22.9 फीसदी है। असम में यह दर सबसे कम 0.4 प्रतिशत है। इसके बाद उत्तराखंड (0.5 प्रतिशत) और मध्य प्रदेश (0.9 प्रतिशत) का नंबर है।

अर्धसैनिक बलों में खाली पद
गृहमंत्रालय ने राज्यसभा में अर्धसैनिक बलों में खाली पदों को लेकर जानकारी दी थी। आंकड़े बताते हैं कि 31 जुलाई 2022 के अनुसार, असम राइफल्स (6044), BSF (23435), CISF (11765), CRPF (27510), ITBP (4762), SSB (11143) रिक्त पद हैं। आंकड़े बताते हैं कि रेल मंत्रालय में 2 लाख 93 हजार 943 पद खाली हैं। गृहमंत्रालय में यह आंकड़ा 1 लाख 43 हजार 536 है। रक्षा मंत्रालय में 2 लाख 64 हजार 706 पद खाली हैं। 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles