Tuesday, November 29, 2022

पटना में शाम 4.32 से 5.13 के बीच रहा सूर्यग्रहण, ग्रहण खत्म होते ही खुले मंदिर

पटना में मंगलवार को आंशिक सर्यग्रहण रहा। यह शाम 4 बजकर 32 मिनट से 5 बजकर 13 मिनट के बीच रहा। इस दौरान श्रद्धालुओं ने भगवान श्री हरि का मानसिक जप किया। सूर्य ग्रहण के ठीक 12 घंटे पहले सूतक लग जाता है। 

पटना में मंगलवार को आंशिक सर्यग्रहण रहा। यह शाम 4 बजकर 32 मिनट से 5 बजकर 13 मिनट के बीच रहा। इस दौरान श्रद्धालुओं ने भगवान श्री हरि का मानसिक जप किया। सूर्य ग्रहण के ठीक 12 घंटे पहले सूतक लग जाता है। 

पटना में सूतक सुबह 4.32 से लग गया। इस दौरान पूजा पाठ नहीं किया गया। शहर के तमाम मंदिरों का पट बंद रहा। कई जगहों पर दीपावली के मौके पर पूजा पंडाल में मां लक्ष्मी, गणेश की प्रतिमा स्थापित की गई थी। सूतक और सूर्य ग्रहण लगने के कारण प्रतिमाओं का मुंह ढंक दिया गया था। 

सूर्य ग्रहण समाप्त होने के बाद मंदिरों को धोने और भगवान की प्रतिमाओं को शुद्ध कर श्रद्धालुओं के लिए मंदिरों को खोला गया। सूर्य ग्रहण के कारण महावीर मंदिर का पट भी बंद रहा। सूर्यग्रहण के बाद मंदिर पूरी तरह धोकर शाम साढ़े छह बजे मंदिर श्रद्धालुओं के लिए खोला गया। गृहस्थों ने भी सूर्यग्रहण के बाद शुद्धता के लिए स्नान कर चावल, नमक, आलू, दाल, हल्दी, द्रव्य आदि दान की वस्तु छूकर दान किया। 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles