Wednesday, December 7, 2022

सीओ की गाड़ी में कट मारकर भागे युवक, पीछा कर घेरा, फिर बैकफुट पर आई पुलिस

वाहनों की चेकिंग कर रहे सीओ शिकोहाबाद ने तेज गति से आ रही कार को रोकने का प्रयास किया तो कार सवार युवकों ने सीओ की गाड़ी में कट मार कर फिल्मी स्टाइल में नगर क्षेत्र की ओर दौड़ा दी।

वाहनों की चेकिंग कर रहे सीओ शिकोहाबाद ने तेज गति से आ रही कार को रोकने का प्रयास किया तो कार सवार युवकों ने सीओ की गाड़ी में कट मार कर फिल्मी स्टाइल में नगर क्षेत्र की ओर दौड़ा दी। कार सवार सभी युवक मोहल्ला काजीटोला स्थित एक भाजपा समर्थक के किसी घर में छिप गए।

उधर पीछा करते आए सीओ ने मकान से युवकों को निकालने का प्रयास किया। सीओ की गृह स्वामी से तीखी बहस हुई। इसके बाद सीओ ने बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स को बुला कर मकान को चारों तरफ से घेर लिया और बाद में मकान में छिपे युवकों को बाहर निकालकर थाने लाई। जहां देर रात तक हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद पुलिस वैकफुट पर आई और युवकों को छोड़ना पड़ा।

देर रात मैनुपरी रोड स्थित संत जनु बाबा के पास सीओ कमलेश कुमार संदिग्ध वाहनों की चैकिंग कर रहे थे। तभी अरांव की ओर से लाल रंग संदिग्ध कार आती दिखाई दी। कार में आधा दर्जन युवक बैठे हुए थे। जब सीओ संदिग्ध युवकों को देख तो गाड़ी को रुकवाना चाहा। चालक ने सीओ की गाड़ी में कट मारा और तेज रफ्तार से शिकोहाबाद की ओर कार भगा ले गया। कार में बदमाशों की आशंका के चलते सीओ ने भी अपनी गाड़ी पीछे लगा दी। 

भाजपा समर्थक के घर में घुसे थे युवक

फिल्मी स्टाइल में युवक सीओ से बचते हुए कार को लेकर काजी टोला स्थित एक भाजपा समर्थक के मकान पर पहुंच गए। कार को घर के बाद खड़ी कर सभी युवक घर में घुस गए। कार में भाजपा समर्थक का भाई भी था। कार का पीछा करते हुए जब सीओ भाजपा समर्थक के घर पर पहुंचे और युवकों को बाहर निकालने का प्रयास किया। 

काफी बहस हुई पुलिस और लोगों में

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पुलिस की यहां पर भाजपा समर्थक के परिजनों से काफी तीखी बहस हुई। समर्थक ने पुलिस को वर्दी उतरवाने तक की धमकी दी। इसके बाद सीओ ने अतिरिक्त फोर्स मंगाया और सख्त रुख अपनाते हुए युवकों को बाहर निकालने के लिए कहा। फोर्स को मकान के चारों तरफ देख भाजपा समर्थक के हौसले पस्त पड़ गए। उसने घर में छिपे सभी युवकों को पुलिस के हवाले कर दिया।

रात को बैकफुट पर आई पुलिस, छोड़े युवक

सीओ पांच युवकों को लेकर थाने ले आए थे। युवकों के पकड़े जाने की जानकारी एक जनप्रतिनिधि को हुई तो वह थाना पहुंच गया। काफी देर तक चले हाई प्रोफाइल ड्रामा के बाद पुलिस आखिर वैकफुट पर आई और युवकों को परिजनों के हवाले कर दिया। 

नशे में थे, क्राइम हिस्ट्री नहीं थी तो छोड़ा:सीओ

सीओ कमलेश कुमार ने बताया कि देर रात चेकिंग के दौरान कुछ युवक शराब के नशे में कार को तेज रफ्तार से चलाते आ रहे थे। जब उन्हें रोकने का प्रयास किया तो कार में कट मारकर भागने लगे। एक मकान में छिपे युवकों को बल प्रयोग कर निकाला। लेकिन सभी युवक थे और उनकी कोई क्राइम हिस्ट्री नहीं थी, इसलिए उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर परिजनों को हिदायत देते हुए सौंप दिया। भीड़ द्वारा पुलिस से कहासुनी की बात से इंकार किया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles