Tuesday, December 6, 2022

बलिया में डूबने से दो लोगों की मौत: जिस घाट पर महिला ने की छठ पूजा, वहीं डूब गया उसका पति

यूपी के बलिया जिले में श्री नाथ बाबा सरोवर डूबने से एक युवक की मौत हो गई। युवक की पत्नी ने छठ व्रत किया था। हादसे से थोड़ी ही देर पहले युवक की पत्नी ने श्री नाथ बाबा सरोवर पर उगते सूर्य को अर्घ्य दिया था। 

यूपी के बलिया जिले में सोमवार को दो अलग-अलग घटनाओं में दो लोगों की डूबने से मौत हो गई। डूबने वालों में एक युवक और एक बच्ची शामिल हैं। वहीं एक बच्ची को बचा लिया गया। पहली घटना श्री नाथ बाबा सरोवर की है। यहां डूबने से एक युवक की मौत हो गई। हादसे की खबर से युवक के परिजनों में कोहराम मच गया। मृतक की पत्नी ने छठ व्रत किया था। 

श्री नाथ सरोवर में छठ पूजा में नपा चेयरमैन ने जल में नाव को सजाने के लिए एक सजावट केंद्र ने ठेका लिया था। उसी ठेका में नगर के वार्ड नंबर एक संत रविदास नगर निवासी संजय कुमार 40 पुत्र बुधराम काम कर रहा था। नाव तैयार होने पर छठ पूजा के दिन नाव भी खींच रहा था। नाव खींचने के दौरान संजय का पैर फिसल गया जिससे वह गहरे पानी में चला गया और डूब गया।

छठ के दिन ही सुहाग उजड़ गया

सूचना पर पहुंची पुलिस ने मल्लाहों के सहयोग से संजय को बाहर निकाला। उसे अस्पताल लाया गया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। यह खबर सुनते ही परिजन रोते बिलखते अस्पताल पहुंचे। मृतक की पत्नी लालसा देवी भी छठ की व्रती थी। वो छठ पूजा कर श्री नाथ सरोवर से घर भी चली गई थी।

उसे क्या पता था कि जहां वह अपने तथा परिवार की मंगल कामना के लिए पूजा कर रही है उसी सरोवर में उसके पति का शव मिलेगा। वो रो-रोकर कहती रही कि छठ के दिन ही सुहाग उजड़ गया।  संजय के भाई विनोद कुमार ने थाने में तहरीर देकर चेयरमैन प्रतिनिधि पर कार्रवाई की मांग की।

पोखरे में डूबने से बालिका की मौत

नगरा क्षेत्र के तिलकारी स्थित तरिया पोखरा पर सोमवार सुबह प्रसाद मांगने गई दो बालिकाओं का पैर फिसलने से गहरे पानी में डूबने लगी। ग्रामीणों ने दोनों को पानी से निकाल कर अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सक ने एक बालिका को मृत घोषित कर दिया। मृतका की शिनाख्त तिलकारी  नट बस्ती निवासी सलोनी (8) के तौर पर हुई। 

आतिशबाजी से बालिका समेत चार झुलसीं

श्रीनाथ बाबा सरोवर पर सोमवार  सुबह भगवान सूर्य का पूजन अर्चन करते समय आतिशबाजी के दौरान एक ही परिवार की एक बालिका समेत तीन व्रती महिलाएं झुलस गईं। कस्बा के बनिया बांध निवासी ज्ञानती देवी (60) पत्नी स्व बृजभान सिंह, रूबी सिंह (35) पत्नी दिनेश सिंह, पुष्पा सिंह (45) पुत्री कैलाश सिंह व रूही सिंह (07) पुत्री दिनेश सिंह श्री नाथ बाबा सरोवर के घाट पर बैठ कर पूजन अर्चन कर रही थीं।

आतिशबाजी के दौरान पटाखा इन सबके बीच में गिर गया। पटाखे की चिंगारी से मासूम समेत सभी झुलस गए। इस दौरान घाट पर खलबली मच गई। परिजन अशोक सिंह की तहरीर पर पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles