Wednesday, November 30, 2022

‘किसने सोचा था दिवाली पर हिंदू बनेगा ब्रिटेन का पीएम’, सुनक को लेकर भारतीय नेताओं का ऐसा रहा रिएक्शन

ऋषि सुनक ब्रिटेन के पहले गैर श्वेत प्रधानमंत्री हैं। सुनक के दादा-दादी ब्रिटिश शासन वाले भारत में पैदा हुए थे लेकिन उनका जन्मस्थान गुजरांवाला आधुनिक पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित है।

भारतवंशी ऋषि सुनक ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बनकर इतिहास रचेंगे। ठीक दिवाली के दिन पेनी मॉर्डंट के दौड़ से हटने की घोषणा के बाद सुनक को कंजरवेटिव पार्टी का निर्विरोध नेता चुन लिया गया। 42 वर्षीय पूर्व वित्त मंत्री को कंजरवेटिव पार्टी के 357 में से आधे से अधिक सांसदों का समर्थन मिला जबकि उन्हें जीत के लिए कम से कम 100 सांसदों के समर्थन की जरूरत थी। सांसदों की प्रभावशाली समिति 1922 के प्रमुख सर ग्राहम ब्रैडी ने नाम वापस लेने के आखिरी दिन स्थानीय समयानुसार दो बजे संसद परिसर में घोषणा की कि उन्हें केवल एक नामांकन मिला है, लिहाजा सुनक नेता बनने की दौड़ में विजयी रहे हैं। सुनक का जन्म ब्रिटेन में हुआ था। भारतीय मूल के उनके पिता यशवीर सेवानिवृत्त डॉक्टर हैं जबकि मां ऊषा सुनक फार्मासिस्ट हैं। 

भारतवंशी ऋषि सुनक ने रचा इतिहास, दिवाली पर ब्रिटेन को मिला हिंदू प्रधानमंत्री; मिला जबरदस्त समर्थन

सुनक को बधाई देते हुए, आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि “इतिहास अपने आप को दोहराता है।” उन्होंने लिखा, “आज, जब भारत एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में अपने 75वें वर्ष में दिवाली मना रहा है, यूके को भारतीय मूल का प्रधानमंत्री मिला है। इतिहास खुद को दोहराता है। बधाई हो, @RishiSunak और हैप्पी दिवाली!” 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रवक्ता प्रीति गांधी ने ट्वीट किया: तो इसकी पुष्टि हो गई है। दिवाली के दिन, @RishiSunak ब्रिटेन के पहले भारतीय मूल के हिंदू प्रधानमंत्री के रूप में इतिहास रचेंगे। किसने सोचा होगा कि महज 75 साल में पासा पलट जाएगा!!” दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने भी सुनक को बधाई दी। उन्होंने लिखा, “एक ऐतिहासिक दिन! ग्रेट ब्रिटेन के प्रधानमंत्री चुने जाने पर @RishiSunak को बधाई। ब्रिटेन के पहले भारतीय मूल के पीएम बने। दुनिया भर में भारतीय मूल के लोगों को आप पर गर्व है।” 

दुनिया के शक्तिशाली देशों में गूंजता है इन भारतवंशियों का डंका, सुनक भी होंगे शामिल

सुनक को बधाई देते हुए, तृणमूल कांग्रेस की फायरब्रांड सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा, “काश भारत भी अधिक सहिष्णु और सभी धर्मों, सभी पृष्ठभूमि को स्वीकार करने वाला हो।” मोइत्रा ने ट्वीट किया, “ब्रिटिश एशियाई को 10वें नंबर पर रखने के लिए मेरे दूसरे पसंदीदा देश यूके पर गर्व है। काश भारत अधिक सहिष्णु और सभी धर्मों, सभी पृष्ठभूमियों को स्वीकार करने वाला हो।”

ऋषि सुनक ब्रिटेन के पहले गैर श्वेत प्रधानमंत्री हैं। सुनक के दादा-दादी ब्रिटिश शासन वाले भारत में पैदा हुए थे लेकिन उनका जन्मस्थान गुजरांवाला आधुनिक पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित है। इस प्रकार, एक अजीब तरीके से नए ब्रिटिश नेता एक भारतीय और एक पाकिस्तानी दोनों है। अब तक, उनके वंश के बारे में बहुत कम विवरण सिर्फ सोशल मीडिया पर उपलब्ध हैं तथा ब्रिटेन में कड़वी राजनीतिक तकरार के बीच भारतीय और पाकिस्तानी दोनों ही उनके सत्ता में आने के बारे में अपने विचार व्यक्त कर रहे हैं।

प्रचार अभियान में सुनक ने कहा, ‘‘मैं समस्याओं से निपटने के लिए आपसे एक अवसर मांग रहा हूं।’’ सुनक ने विरासत में मिलने वाले आर्थिक संकट का संदर्भ देते हुए कहा कि वह पिछले सप्ताह ट्रस द्वारा घोषित ‘विनाशकारी’ कर कटौती वाले बजट का अनुपालन कर सफल नहीं हो सकते हैं।” उन्होंने कहा, ‘‘ब्रिटेन महान देश है लेकिन बड़े आर्थिक संकट से गुजर रहा है और इसलिए मैं पार्टी का नेता और आपका अगला प्रधानमंत्री बनने के लिए मैदान में हूं।’’ सुनक ने सरकार के स्तर पर ‘‘ ईमानदारी रखने, पेशेवर रवैया अपनाने और जवाबदेह रहने का वादा किया।’’ उन्होंने कहा कि समस्याओं के समाधान के लिए वह दिन-रात काम करेंगे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles